आइए मिलते हैं 10 भारतीय क्रिकेटरों से जो शुद्ध शाकाहारी हैं – नॉनवेज से रहते हे एकदम दूर.!

खेल के मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करने और अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए हर खिलाड़ी को एक अच्छे आहार की आवश्यकता होती है। इन खाद्य पदार्थों में सभी पोषक तत्व होते हैं, जो शरीर को बहुत अधिक ऊर्जा देते हैं। आप जानते हैं कि मांसाहारी खाद्य पदार्थ प्रोटीन में उच्च होते हैं। फिर भी कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने आज तक नॉन वेज नहीं खाया है।

आज हम आपको क्रिकेट की दुनिया के कुछ ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो शुद्ध शाकाहारी हैं और कभी भी मांस या मांस उत्पादों का उपयोग नहीं करते हैं।

इसके बावजूद, वे अपने स्वास्थ्य को बनाए रखते हैं और अपने खेल में कोई कमी नहीं होने देते हैं। इन एथलीटों ने साबित किया है कि अच्छा स्वास्थ्य पाने के लिए मांसाहारी चीजों का सेवन करना आवश्यक नहीं है। तो आइए देखते हैं खिलाड़ी कहां है।

1. अनिल कुंबले:

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और पूर्व कोच अनिल कुंबले अपने करियर के दौरान एक महान स्पिनर रहे हैं। उन्होंने काफी विकेट भी लिए हैं। स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले सालों से क्रिकेट खेल रहे हैं और उन्हें फिट रखने के लिए कभी नॉनवेज का इस्तेमाल नहीं किया। वे शुद्ध शाकाहारी हैं।

2. गौतम गंभीर:

गौतम गंभीर ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है, लेकिन जब वह बल्लेबाजी के लिए उतरे तो उन्हें आउट करना बहुत मुश्किल था। गौतम गंभीर ने अपने आहार में कभी भी नॉन-वेज आइटम का इस्तेमाल नहीं किया है। गौतम गंभीर शाकाहारी रहे हैं। अब वह सांसद भी बन गए हैं। उन्होंने पूर्वी दिल्ली से भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता है।

3. रोहित शर्मा:

रोहित शर्मा, जो वर्तमान में सबसे सफल बल्लेबाज हैं। अपनी फिटनेस को बनाए रखने के लिए केवल शाकाहारी आइटम खाते हैं। रोहित शर्मा ने अपने खेल से पूरे क्रिकेट जगत को प्रभावित किया है। रोहित शर्मा एक ब्राह्मण परिवार से हैं। यह भी एक कारण है कि वह मांसाहारी वस्तुओं से दूर रहती है।

4. वीरेंद्र सहवाग:

पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग एक मजबूत खिलाड़ी रहे हैं। उनके खेल में उनकी मजबूत शरीर की बड़ी भूमिका थी। वीरेंद्र सहवाग शुद्ध शाकाहारी रहे हैं। सहवाग जाट परिवार से ताल्लुक रखने के बावजूद भी उन्होंने कभी नॉनवेज को नहीं छुआ। वीरू को दूध पीने का बहुत शौक है।

5. ईशांत शर्मा:

तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा का कद काफी ऊंचा है। इशांत की हाइट 6.3 फीट है। इशांत शर्मा अब ज्यादातर टेस्ट मैचों में ही देखे जाते हैं। आपको बता दें कि वे अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए शुद्ध शाकाहारी भोजन खाते हैं और इसका नॉन-वेज से कोई लेना-देना नहीं है।

6. सुरेश रैना:

शुद्ध शाकाहारी भोजन सुरेश रैना के स्वास्थ्य का रहस्य है, जो लंबे समय से क्रिकेट से दूर है। सुरेश रैना एक कश्मीरी पंडित परिवार से हैं। वे मांसाहारी वस्तुओं से दूर रहते हैं। एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि वे केवल पेड़-पौधों में पाई जाने वाली चीजों का उपयोग करते हैं।

7. चेतेश्वर पुजारा:

टेस्ट क्रिकेट में दबदबा बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा बेहद शांत स्वभाव के इंसान हैं। चेतेश्वर पुजारा एक बहुत ही धार्मिक व्यक्ति हैं और भगवान में बहुत आस्था रखते हैं। पुजारा मांसाहारी भोजन को भी नहीं छूता है।

8. आर। अश्विन:

भारतीय क्रिकेट टीम के वर्तमान स्पिन गेंदबाज आर अश्विन तमिलनाडु के हैं। तमिलनाडु में मांसाहारी लोगों की कमी नहीं है। लेकिन आर अश्विन शुद्ध शाकाहारी हैं। रवि अश्विन की धर्म के प्रति गहरी आस्था है, वे हमेशा शुद्ध शाकाहारी भोजन खाना पसंद करते हैं और यही कारण है कि वह अपने स्वास्थ्य पर काम करते हैं।

9. भुवनेश्वर कुमार:

तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार मेरठ के एक परिवार से आते हैं जो पूर्ण शाकाहारी हैं। भुवनेश्वर कुमार और उनके परिवार के सदस्य नॉनवेज नहीं खाते हैं। भुवनेश्वर की आहार योजना में केवल शाकाहारी वस्तुएँ शामिल हैं।

10. मनीष पांडे:

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज मनीष पांडे भारतीय टीम में एक बाहरी व्यक्ति हैं। लेकिन वे खेल में अच्छा स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए केवल शाकाहारी भोजन खाते हैं। मनीष पांडे कर्नाटक के पंडित परिवार से हैं, जो शुद्ध शाकाहारी हैं। उन्होंने कभी भी नॉन-वेज फूड का इस्तेमाल नहीं किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here