हर विवाहित महिला को मंगलवार के दिन करना चाहिए ये पांच काम, हनुमानजी करेंगे आपके पति की रक्षा

हर शादीशुदा महिला चाहती है कि उसका पति हमेशा सुरक्षित रहे। कोई भी पत्नी अपने पति को खोना नहीं चाहती। हनीमून को सुरक्षित रखने के लिए हिंदू धर्म में कई चीजें प्रचलित हैं। सेठ पर सिंदूर का व्रत, जाप, गले में मंगलसूत्र और करवा चौथ आदि धारण करना। इसमें हम आज आपको एक और अच्छा उपाय दिखाने जा रहे हैं।

इस उपाय को करने से मधु यानि आपके पति हमेशा सुरक्षित रहेंगे और साथ ही उनकी किस्मत भी मजबूत होगी। यह उपाय आपको मंगलवार के दिन करना है। मंगलवार हनुमान जी का दिन है। हनुमानजी हमेशा लोगों की रक्षा करने और कठिनाइयों पर काबू पाने के लिए जाने जाते हैं। यदि पत्नी इनमें से एक या सभी उपाय प्रत्येक मंगलवार को करे तो पति की आयु लंबी होती है।

यह उपाय पति की रक्षा करता है

मंगलवार के दिन महिलाओं को सुबह सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करना चाहिए। फिर हनुमानजी को चार धूप जलाएं। अब सूरज के उगने का इंतजार करें। आकाश में सूर्य के उदय होते ही हनुमानजी के सामने रखी धूप में से 2 धूप लें और उसे सूर्य देव के सामने फेर दें। ऐसा करते समय अपने पति की छवि पर विचार करें और भगवान से उनकी सुरक्षा के लिए प्रार्थना करें। बजरंगबली की कृपा और सूर्य की चमक आपके पति को नुकसान नहीं होने देगी।

मंगलवार के दिन किसी गरीब विवाहित महिला को सौंदर्य प्रसाधन दान करना भी शुभ होता है। इस सामग्री में आप अपनी पसंद की कोई भी वस्तु जैसे साड़ी, मेहंदी, माला, कान की बाली, ब्रेसलेट आदि संलग्न कर सकते हैं।

जब भी आप इसे किसी महिला को दें तो आपको हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए और नारियल का भोग लगाना चाहिए। आप इस नारियल को सौंदर्य प्रसाधनों के साथ रखें और फिर किसी गरीब विवाहित महिला को दान कर दें। इससे यह सुनिश्चित होगा कि आपके पति को अपनी नौकरी या व्यवसाय में वित्तीय बाधाओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

मंगलवार को महिलाएं पति के साथ हनुमान पूजा में बैठती हैं। इस पूजा में साबुत सब्जियों और खीर का प्रसाद चबाएं। अब इस भोजन से पहले गाय को खिलाएं। यह काम एक अकेली महिला अकेले कर सकती है, लेकिन आपके साथ पति होने के कई फायदे हैं। जब गाय को यह प्रसाद मिले तो उसे एक ही थाली में पति-पत्नी के साथ खाना चाहिए। यह उपाय पति-पत्नी के बीच प्रेम बनाए रखेगा और भाग्य को मजबूत करेगा।

मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद हनुमानजी का अनुसरण करें। उनसे अपने पतियों की रक्षा करने का आग्रह करें। आप चाहें तो किसी भी बाधा को पार कर सकते हैं। अवरोध बड़ा होना जरूरी नहीं है। जो तुम्हें करना है वो करो। इसे मत भूलना। मंगलवार के दिन आपके सामने जो भी बाधा आ रही है उसे दूर करने का भी एक उपाय है। सीमा पूरी नहीं होने पर कोई नुकसान नहीं होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here