महल से गायब हुआ 9 लाख का चांदी का पलंग, नवाब के बेटे ने जताया चोरी का शक

आज हम आपको शासक नवाब रजा अली खां के बारे में बताने जा रहे हैं। शासक नवाब रजा अली खां रामपुर रियासत के अंतिम शासक थे और इनके पास काफी संपत्ति हुआ करती थी।

वहीं जब भारत की सभी रियासतों का भारतीय गणराज्य में विलय हुआ तो इनकी रियासत छीन ली हई। वहीं इनके गुजर जाने के बाद इनके परिवार को लोगों के बीच इनकी संपत्ति को लेकर विवाद हो गया और ये विवाद सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट की और से इनकी संपत्ति का मूल्यांकन करने का आदेश दिया गया। वहीं जब इनकी संपत्ति का मूल्यांकन हाल ही में किया गया, तो सबके होश उड़ गए।

रामपुर रियासत में 174 साल तक नवाबों ने शासन किया है और इस दौरान इन्होंने खूब संपत्ति जोड़ी। शासक नवाब रजा अली खां इस रियासत के आखिर नवाब थे।

इनके बारे में कहा जाता है कि इनके शौक बहुत बड़े थे और ये सोने-चांदी के बर्तनों में ही खाना खाया करते थे। इतना ही नहीं ये चांदी के पलंग पर सोया करते हैं और चांदी के हुक्के का इस्तेमाल किया करते थे। इसके अलावा इनके पास  बेहद ही सुंदर पानदान भी था।

64 करोड़ की है संपत्ति

इनकी संपत्ति में 6 चांदी के पलंग है। जिनकी कीमत 9 लाख रुपए की है। जबकि इनके हुक्के की कीमत 5 लाख रुपए बताई जा रही है। इसके अलावा नवाब के खाना खाने की एक प्लेट की कीमत 15 हजार रुपये आंकी गई है। इनकी एक पेंटिंग की कीमत 15 से लेकर 39 लाख रुपये तक बताई जा रही है। जबकि इनके पानदान की कीमत पौने दो लाख रुपये है। इस तरह से इनकी सभी चल संपत्ति की अनुमानित कीमत 64 करोड़ ( 642170250) लगाई गई है।

चोरी किए गए पलंग

इनकी संपत्ति में चांदी के 6 पलंग भी शामिल थे। लेकिन अब ये सभी पलंग गायब हैं। अंतिम शासक के पौत्र पूर्व मंत्री नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां का आरोप है कि ये सभी पलंग खासबाग से गायब हैं। नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां का कहना है कि कोर्ट द्वारा नियुक्त एडवोकेट कमिश्नर जब सर्वे के लिए हाल ही में खासबाग पैलेस गए थे। तो वहां कोई चांदी का बैड नहीं था। ये बैड पैलेस के रॉयल स्वीट में होते थे। लेकिन अब वहां से गायब है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here