आईएएस या आईपीएस मे से सबसे ज्यादा ताकतवर कौन है, जानिए दोनों के बीच में कितना अंतर होता हे।

UPSC यानि संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा सबसे कठिन व्यक्ति में आती है। इस परीक्षा को पास करने के लिए उम्मीदवार दिन रात मेहनत करता है और इस परीक्षा को पास करने का सपना देखता है। इस परीक्षा में हर साल लाखों उम्मीदवार शामिल होते हैं जिनमें से बहुत कम उम्मीदवारों को IAS और IPS पद मिलते हैं। तो आइए जानें कि IAS और IPS से ज्यादा ताकतवर कौन सा पद है।

आईएएस: आईएएस का मतलब भारतीय प्रशासनिक सेवा है। जिसके माध्यम से नौकरशाही में प्रवेश प्राप्त होता है। IAS में चयनित होने के बाद, उम्मीदवार को मंत्रालय या जिले के प्रमुख के रूप में नियुक्त किया जाता है। आईएएस अधिकारी नौकरशाही में सर्वोच्च पद, कैबिनेट सचिव तक भी जा सकता है।

IAS और IPS में कौन सी पोस्ट होती है ज्यादा शक्तिशाली और कितनी होती है इनकी सैलरी? जानें यहां

IPS:  IPS का मतलब भारतीय पुलिस सेवा है। जो पुलिस विभाग की उच्च शक्तियों में शामिल है। सेवा आईपीएम से लेकर डीजीपी या इंटेलिजेंस ब्यूरो, सीबीआई प्रमुख तक हो सकती है।

IAS और IPS में क्या अंतर है?  IAS का कोई ड्रेस कोड नहीं होता है। अधिकारी औपचारिक पोशाक में है। जबकि आईपीएस ड्यूटी के दौरान ड्रेस कॉर्ड में पाए जाते हैं। IAS के साथ 1 या 2 बॉडीगार्ड होते हैं। जब आईपीएस के साथ पुलिस बल होता है। आईएएस बनने पर मेडल दिया जाता है। आईपीएस बनने के साथ ही स्वॉर्ड ऑफ ऑनर अवॉर्ड देकर सम्मानित किया जाता है।

IAS और IPS की IAS अधिकारी की नीति तैयार की जाती है और इसके कार्यान्वयन के लिए नागरिक को दी जाती है। जबकि IPS अधिकारी अपने क्षेत्र में अपराध को रोकने के लिए काम करते हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि कानून और विनियम अच्छी तरह से जीवित रहें। आईएएस और आईपीएस से ज्यादा ताकतवर कौन है?

IAS और IPS अफसर किसकी पावर है सबसे ज्यादा? काम-कमांड, सैलरी से लेकर सरकारी सुविधाओं में ये है अंतर | who is more powerful in ias or ips officer work power and

इन दोनों अधिकारियों का जॉब प्रोफाइल सर्वोच्च मानव में आता है। यह स्थिति शक्तिशाली है। लेकिन IAS अधिकारी DM के रूप में अधिक शक्तिशाली होता है जबकि IPS अधिकारी पुलिस विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों का प्रमुख भी होता है।

वेतन आईएएस अधिकारी सरकारी विभागों और मंत्रालयों में काम करता है। अधिकारी का वेतन रु। 56,100 से 2.50 लाख प्रति माह। इसके साथ ही आपको एक अन्य सुविधा का भी लाभ मिलता है, जबकि एक IPS अधिकारी की सैलरी 56100 से 225000 प्रतिमाह होती है। यह भी वरिष्ठ के आधार पर भिन्न होता है। अधिकारियों को वेतन के अलावा सरकारी आवास, वाहन जैसी कई सुविधाएं मिलती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here