भले ही घर में रोज पूजा पाठ हो, पर भगवान की कृपा अगर नहीं रहती है तो रखे इन 10 बातों का ध्यान। ..

ज्यादातर लोग सुबह जल्दी उठते हैं और पूजा के बजाय अपने संबंधित देवताओं का ध्यान करते हैं। हालांकि, उनके जीवन में कई समस्याएं हैं। कहा जाता है कि भगवान को याद करने से जीवन में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं। जीवन में संकट ईश्वर द्वारा फेंका जाता है। लेकिन … कभी-कभी विपरीत भी होता है। अगर आपके जीवन में भी ऐसा होता है, तो आपके घर में कुछ दोष होंगे!

जिस स्थान पर हम रहते हैं उसे वास्तु कहते हैं। यही कारण है कि हम यह भी नहीं जानते कि जिस इमारत में हम रहते हैं, उसमें क्या खराबी है, जिससे हमें नुकसान उठाना पड़ता है। हम इस बात पर भी ध्यान नहीं देते हैं कि घर में सकारात्मक ऊर्जा है या नकारात्मक ऊर्जा। लेकिन आज हम कुछ ऐसे सटीक उपाय बताएंगे जिनसे लाभ होगा।

जैसे घर के ईशान कोण पर भगवान का स्थान होता है या इस स्थान पर पानी होना चाहिए। यदि इस कोने में रसोई या गैस की बोतल है, तो यह एक दोष की तरह दिखता है, इसलिए इसे तुरंत हटा दिया जाना चाहिए और एक मंदिर स्थापित किया जाना चाहिए।

कोलकाता के प्रसिद्ध ज्योतिषी कहते हैं कि घर का मुख्य दरवाजा या तो पूर्व या उत्तर की तरफ होना चाहिए, जो बहुत शुभ है। साथ ही, अगर घर का दरवाजा उस दिशा में नहीं है तो घर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। उस नकारात्मक प्रभाव को दूर करने के लिए घर के मुख्य दरवाजे पर पांच धातुओं से बनी स्वस्तिक लगाने से सभी प्रकार के नकारात्मक प्रभाव दूर होते हैं। यहाँ घर पर देखभाल करने के लिए दस सुझाव दिए गए हैं:

टूटे हुए कांच के जार जैसे घरेलू सामानों का निपटान, बेकार पड़ी बिजली की वस्तुएं या भारी वस्तुएं जिन्हें लोहे से ढंक दिया गया हो। अन्यथा घर की शांति भंग हो सकती है। घर में तिजोरी का दरवाजा पूर्व या उत्तर दिशा में रखना चाहिए।

खजाने के द्वार पर कमल पर विराजमान लक्ष्मीजी की प्रतिमा रखने से खजाने में बरकत बनी रहती है और मां लक्ष्मी की कृपा बरसती रहती है।

यदि घर में तुलसी का पौधा हो तो वास्तुदोष के प्रभाव से बचा जा सकता है।

घर के बाहर एक गमले में तुलसी का पौधा लगाएं, सुबह उसे पानी दें और शाम को एक दीपक जलाएं।पूर्व या उत्तर दिशा में तुलसी का पौधा लगाने से घर में रहने वाले लोगों का आत्मविश्वास दोगुना हो जाता है।

अगर हर दिन घर के कोनों को साफ किया जाए, तो सभी तरह की नकारात्मकता दूर होगी और घर का माहौल प्यार भरा रहेगा।

यदि आप किसी व्यक्ति को या ब्राह्मण को दान करते हैं, तो आपको घर के दरवाजे के बाहर खड़े होकर दान करना चाहिए।

जब पैसे की बात आती है, यदि आप एक कागज या चेक पर हस्ताक्षर करते हैं, तो इसे अपनी कलम से करें।

शाम को पूरे घर को चालू करना चाहिए और पूरे घर को थोड़ी देर के लिए रोशन करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here