एक अजीबोगरीब कुंड जहां ताली बजाकर निकलता है पानी, जानिए इस रहस्यमयी कुंड के बारे में

मनुष्य का स्वभाव जिज्ञासु है। मानव इतिहास की शुरुआत से। तब से वह प्रकृति के रहस्य को जानने की कोशिश कर रहा है। वह कई रहस्यों को जानता है लेकिन आज भी ब्रह्मांड का अज्ञात सत्य उसे कुछ और जानने और समझने की चुनौती देता है।

 हटाना प्रक्रिया बहुत पुरानी है। लेकिन ऊपर हरे रंग को भी देखें कि प्रत्येक प्रश्न उत्तर मांगता है और प्रत्येक उत्तर कई प्रश्नों की एक सूची छोड़ देता है। ऐसे में व्यक्ति एक रहस्य सुलझाता है।

बात करें हमारे देश भारत की। तो भारत में ऐसी कई जगह हैं। यह रहस्यों से भरा है। हां, हमने ऐसी जगहों के बारे में कई बार सुना या देखा है।

 देश-विदेश के वैज्ञानिक कई रहस्यों को सुलझा नहीं पाए हैं। एक ऐसा रहस्यमय जगह है दिल्ली कुंड। ताली बजाते ही पानी निकलता है। आइए जानते हैं झारखंड के बोकारो में स्थित इस तालाब के पीछे क्या राज है।

आपको बता दें कि झारखंड में बोकारो का दिल्ली कुंड अक्सर अपने रहस्यमय चमत्कारों के कारण सुर्खियों में रहता है। कहा जाता है कि अगर आप इस कुंड के सामने खड़े होकर ताली बजाते हैं तो पानी निकलता है। मानो अभी-अभी उबाला गया हो।

रंजी स्ट्रीक स्ट्रीक सलेक्शन 

इस पूल के बारे में शोध क्या कहता है? आपको बता दें कि दलाही कुंड का पानी जमुई नामक नाले से गरगा नदी में जाता है।एक शोध के अनुसार ऐसी जगहों पर पानी बहुत कम होता है।

यह कुंड मनोकामनाएं पूरी करता है। लोकप्रिय मान्यता के अनुसार इस कुंड में स्नान करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं। इस अनोखे कुंड में स्नान करने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों का कहना है कि इस कुंड के पानी से त्वचा संबंधी सभी बीमारियां दूर हो जाती हैं।

बोकारो से 27 किमी दूर स्थित यह कुंड बोकारो से लगभग 27 किमी दूर जगसूर में स्थित है । कुंड में दलाही गोसाईं देव का एक स्टेशन भी है। भक्त हर रविवार को उनकी पूजा करने आते हैं। लोगों के अनुसार, यहां मेला का आयोजन तब से किया जाता है 1984.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here