कोरोना पर चीन को लेकर दुनिया का गुस्सा फूटा, जर्मनी ने भेजा हर्जाना बिल

कोरोना वायरस दुनिया भर में फैल गया है। लाखों लोग कोरोना वायरस के शिकार हुए हैं। इस तरफ चीन पर विभिन्न देशों का गुस्सा फूट पड़ा है। जर्मनी ने चीन को क्षतिपूर्ति के लिए एक बिल भी भेजा है। अमेरिका ने चीन को धमकी दी है जबकि अन्य देश चीन के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

डोनाल्ड ट्रम्प ने संयुक्त राज्य अमेरिका के व्हाइट हाउस से एक समाचार सम्मेलन में कहा, “हम चीन जाना चाहते हैं और यह पता लगाना चाहते हैं कि चीन से वायरस कैसे फैलता है।” इस प्रकार अमेरिका एक टीम भेजने की तैयारी कर रहा है। जर्मनी ने आर्थिक क्षतिपूर्ति के लिए चीन को 149 बिलियन यूरो का बिल भेजा है, क्योंकि कोरोना वायरस के कारण जर्मनी में हजारों लोगों की मौत हो गई है। इसके लिए बनाने को कहा। इस प्रकार, चीन पर अंतर्राष्ट्रीय दबाव लगातार बढ़ रहा है।

कोरोना वायरस ने दुनिया में 1 लाख 65 हजार से ज्यादा लोगों की जान ली है। चीन ने कहा कि आप यह भी जानते हैं कि एक लैब में वायरस नहीं बन सकते हैं। हालांकि, कोरोना वायरस के उद्भव के बारे में संदेह चीन की ओर बढ़ रहा है। ब्रिटेन भी कोरोना में चीन की भूमिका के बारे में बात कर रहा है। हालांकि, चीन लगातार इससे इनकार करता रहा है। संयुक्त राज्य अमेरिका ने भी विश्व स्वास्थ्य संगठन से फंडिंग को रोक दिया है, यह कहते हुए कि यह वायरस पर रुख नहीं ले रहा है। दुनिया के देश चीन से नाराज दिख रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here