3 सबसे शक्तिशाली गणेश मंत्रजाप, जीवन में आने वाली समस्याका होगा समाधान और आपका जीवन बदल जाएगा !!

जब आप अपने जीवन में हर तरफ से दुखों से घिरे होते हैं, तो संकट आता है और अगर कोई रास्ता नहीं है तो तुरंत गौरी पुत्र गजानन गणेश को याद करें। उसकी आराधना तुरंत आपको फल देगी।

भगवान गणेश प्रसन्न होते हैं और स्वयं के प्रत्येक रूप में आनंद प्राप्त करते हैं। भगवान गणेश की हर पूजा अत्यंत फलदायी और आनंदित करती है। वह सौभाग्य और मंगल के दाता हैं। भगवान गणेश की पूजा करने के लिए कोई अनुष्ठान करने की आवश्यकता नहीं है।

सच्चे मन और आत्मा से उनके मंत्रों का जाप करने से ही आप गणेश जी का आशीर्वाद प्राप्त कर पाएंगे और गणेश जी आपको सभी दुखों से बचा लेंगे और परेशानियों को दूर करेंगे।

गणेश के मंत्र ऊर्जा और शक्ति से भरे होते हैं, अगर इन मंत्रों का सच्चे मन और भक्ति के साथ जप किया जाए तो गणेशजी सकारात्मक परिणाम देते हैं। भगवान गणेश भगवान शिव और पार्वती के पुत्र होने के साथ-साथ ज्ञान के देवता भी हैं और वे अपने सभी भक्तों को दूर कर देते हैं। उन्हें बुद्धि का देवता भी कहा जाता है।

गणेश गायत्री मंत्र – ओम एकदंताय विद्महे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो बुद्धे प्रचोदयात्।

उपरोक्त गणेश गायत्री मंत्र का 108 बार जप करने से मुझे तुरंत फल मिलता है। इस मंत्र का 11 दिनों तक जप करने से आपके सभी बुरे कर्मों का फल नष्ट हो जाता है और आपको सुख, शांति और समृद्धि मिलती है। साथ ही आपका भाग्य भी उदय होता है।

तांत्रिक गणेश मंत्र

ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋदि्ध पति, सिदि्ध पति। मेरे कर दूर क्लेश।।

तो यह गणेश मंत्र एक तांत्रिक मंत्र है जिसे आपको मंत्र का अभ्यास करते समय कई बातों का ध्यान रखना है। सुबह जल्दी उठने और साफ होने के बाद, आपको माता पार्वती और महादेव का ध्यान करना चाहिए और पूजा करनी चाहिए, फिर आपको भगवान गणेश की पूजा करनी चाहिए और उपरोक्त मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए।

ऐसा करने से व्यक्ति के सभी दुख और पीड़ाएं पूरी हो जाएंगी और भगवान गणेश को प्रसन्नता मिलेगी। इस मंत्र का जाप करते समय मन को शुद्ध रखें और मांस, मदिरा का सेवन न करें और व्यभिचार न करें।

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।

यदि आप अभिभूत हैं और आपके जीवन में परेशानी आपका पीछा नहीं छोड़ती है, तो आपको भगवान गणेश के कुबेर मंत्र का जाप करने की आवश्यकता है। ऐसा करने से आपको अपने ऋण को तेज़ी से चुकाने में मदद मिलेगी और साथ ही साथ आपकी वित्तीय स्थिति में सुधार होगा। इस मंत्र का नियमित रूप से जाप करने से आपका भाग्य भी खुल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here