करोड़ों की संपत्ति होने के बावजूद एक रूसी लड़की ने एक १२ पास भारतीय पुरुष के साथ की शादी।।

प्रेम की मिसालें बरसों से दी जाती रही हैं। यह भी कहा जाता है कि जो लोग प्यार करते हैं वे अपने प्यार को पाने के लिए बहुत कुछ करते हैं। ऐसा ही एक मामला जनवरी 2019 में सामने आया था। रूस से एवगेनिया पेट्रोवा नाम की एक लड़की अपने प्रेमी को खोजने भारत आई थी। 

पेट्रोवा की दोस्ती हरियाणा के कुरुक्षेत्र के बर्थली गांव निवासी विक्रम से फेसबुक के जरिए हुई थी। समय के साथ यह दोस्ती प्यार में बदल गई। जिसके बाद दोनों शादी के बंधन में बंध गए।

पेट्रोवा अपने प्यार को पाने के लिए रूस से भारत आई थीं। पेट्रोवा को भी देहात के सभी रीति-रिवाज पसंद आए और उन्होंने हिंदू रीति-रिवाजों से शादी कर ली। बर्थली में रहने वाला 26 वर्षीय विक्रम अमृतसर में एक बाल रोग विशेषज्ञ के सहायक के रूप में काम करता है।

विक्रम ने कहा, “उन्होंने 2009 में एक फेसबुक अकाउंट बनाया और इसी बीच उन्होंने पेट्रोवा को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। जिसे पेट्रोवा ने स्वीकार किया। इसके बाद दोनों के बीच करीब-करीब रोजाना बातें होती थीं। इसके बाद दोनों ने पार्टनर बनने का फैसला किया। हालांकि, जोड़े ने शादी के लिए परिवार की सहमति मांगी।

जब पेट्रोवा भारत आया तो विक्रम का परिवार एक विदेशी लड़की को दुल्हन के रूप में स्वीकार करने के लिए बहुत उत्सुक था। लड़के की मां ने कहा, ‘उनकी शादी हिंदू रीति-रिवाज से हुई। 

इसके अलावा, शादी में रूसी रीति-रिवाजों का पालन किया गया। हालांकि, पेट्रोवा यहां आने के बाद से कोई और भाषा नहीं समझ पाई हैं, लेकिन उनकी बेटी अंग्रेजी जानती है। पेट्रोवा इशारों और समझती है। पेट्रोवा का परिवार भी शादी के लिए तैयार था। ”

जब पेट्रोवा यहां आए, तो उन्होंने देखा कि पूरा गांव उत्सुक था और दिलचस्प बात यह है कि ग्रामीणों ने रूस से पेट्रोवा और विक्रम का पीछा किया और उनके साथ मस्ती की। यह देखकर पेट्रोवा भी बहुत खुश हुई। पेट्रोवा ने कहा, “उनके पिता सर्गेव पेट्रोवा, उनकी मां इकेगरी के भाई इल्या और बहन वसीतिसा भी उनकी शादी के लिए भारत आए थे। उनके पिता फूड प्रोडक्शन का काम करते हैं।”

भारत के इस गाँव में आकर पेट्रोवा को आम, लीची, खरबूजे और केले बहुत पसंद थे। हालांकि, पेट्रोवा अपनी शादी को लेकर बेहद खुश और उत्साहित थीं। पेट्रोवा ने कहा, “शादी के तुरंत बाद, वह अपने पति के साथ रूस में रहना चाहती थी।” जिसके लिए विक्रम भी तैयार है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here