बस घर पर पीले कोड़ी का यह 1 उपाय करें, खजाना हमेशा धन से भरा रहेगा – जानें आसान उपाय

हम सभी जानते हैं कि लोग अपने भाग्य के बारे में लगातार चिंतित रहते हैं। उन्हें आश्चर्य होता है कि उनका भविष्य क्या रंग लाएगा। अक्सर ऐसा भी होता है कि किसी की किस्मत चमक जाती है और किसी की किस्मत पहले से भी ज्यादा ढह जाती है। और इसके पीछे का कारण नहीं लगता है क्योंकि कड़ी मेहनत और परिश्रम के बावजूद सफलता नहीं मिलती है।

बहुत से लोग अपने भविष्य को बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष का सहारा लेते हैं। ताकि इसे पहले से तैयार किया जा सके। जो सभी परेशानियों को दूर कर सकता है और साथ ही हर काम में सफलता भी दिलाता है।

तंत्र विद्या में कहा जाता है कि धनलक्ष्मी अपने आप से पीले रंग के कोड की ओर आकर्षित होती हैं। यह देवी लक्ष्मीजी की पसंदीदा चीजों में से एक है। अगर हम इसका सही इस्तेमाल करते हैं तो देवी लक्ष्मी हमारे घर में स्थायी रूप से निवास करती हैं और इस वजह से घर में किसी के पास धन की कमी नहीं होती है। हालाँकि पीली मकड़ियाँ समुद्र से निकलती हैं, लेकिन ये किसी भी किराने की दुकान पर आसानी से मिल जाती हैं।

येलो कॉड को काफी महत्व माना जाता है। बहुत से लोग अपने घर या मंदिर या खजाने में पीले रंग का सिक्का रखते हैं और पूजा भी करते हैं। पीली कौड़ी मिथकों पर आधारित महालक्ष्मी की विशेष पसंदीदा है। जिसके कारण पीली कौड़ी का उपयोग पूजा पाठ में भी किया जाता है। जिनकी पूजा से घर में विशेष धन की प्राप्ति होती है। तो आइए जानते हैं पीली कौड़ी के उपायों के बारे में जिनसे लक्ष्मीजी की आर्थिक कृपा आप पर बरस सकती है।

श्रावण मास के सोमवार को 12 कोड़ियों को एक हरे कपड़े में बांधकर घर के उत्तर दिशा में छिपा दिया जाता था। इस उपाय से आपको कुबेर देव की कृपा प्राप्त होगी।

शुभ मुहूर्त में मां महालक्ष्मी की पूजा करें और पूजा में 11 पीले सिक्के रखें। पूजा के बाद इन सभी शंखों को पीले कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रख दें।

सुनिश्चित करें कि आपके पास खराब दिखने से बचने के लिए एक पीला कॉड है। आप इसे अपने पर्स या जेब में और साथ ही अपनी गर्दन पर एक ताबीज की तरह रख सकते हैं।

समृद्धि के लिए, 11 कोड़ियां घर के मुख्य दरवाजे पर बांधी जाती थीं। जिससे घर में नकारात्मक भाव नहीं पैदा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here